औषधी नियंत्रण विभाग ने मेडिकल स्टोर पर छापा मार कर किया सील

PNN/ Faridabad: जिला औषधी नियंत्रण विभाग ने नशीली दवाओं के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत आज एक बडी कार्रवाई करते हुए एन.आई.टी स्थित नम्बर एक की मार्किट में नशीली दवाओं का कारोबार करने वाले एक मैडीकल स्टोर से नशीली दवाओं को अपने कब्जे में लेकर मैडीकल स्टोर को सील कर दिया है। मजे की बात यह है कि इस मैडीकल स्टोर के संचालक को इससे पहले भी नशीली दवाओं के मामले में सजा हो चुकी है। इस बिषय में जानकारी देते हुए जिले के वरिष्ठ औषधी नियंत्रक अधिकारी करण गोदारा ने बताया कि उनको शिकायत मिली कि एक नम्बर मार्किट में एक मैडीकल स्टोर पर नशीली दवाएं धड़ल्ले से बेची जा रही है. शिकायत के आधार पर उन्होंने उक्त जोन की जिला औषधी निरीक्षक पूजा चौधरी को अपने साथ लिया तथा एनएच 23 में चल रहे विशाल मैडीकल स्टोर पर छापा मारा और दुकान में दवाओं की जांच की तो पाया कि उसकी दुकान में नशे के लिए प्रयोग की जाने वाली दवाएं जिन में कोडीन सिरप, ट्रासाडोल कैप्सूल तथा कैरिसोमा गोली शामिल हैं उपलब्ध हैं। अधिकारी गोदारा ने बताया कि यह सभी दवाएं नशीली दवाओ की श्रेणी में आतीं हैँ तथा इनको इस प्रकार से बेचे जाने पर पाबंदी है।
करण सिंह गोदारा ने बताया कि उनकी टीम ने इस सभी दवाओं को सील कर अपने संरक्षण में ले लिया तथा मैडीकल स्टोर को सील कर दिया। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व भी एक बार उक्त मैडीकल स्टोर को नशीली दवाओं के बेचने के आरोप में ही दोषी करार दिया जा चुका है, इसके वावजूद उक्त मैडीकल स्टोर के संचालक गैरकानूनी काम कर रहा है, तो उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। गोदारा ने पत्रकारों को बताया कि विभाग के आयुक्त तथा प्रदेश के औषधी नियंत्रक नरेन्द्र आहुजा के स्पष्ट निर्देश हैं कि किसी भी सूरत मे कहीं पर भी नशीली दवाओं की बिक्री सहित दवाओं का कोई भी गैर कानूनी काम सहन नहीं किया जाएगा और इन आदेशां को अक्षश: लागू करने के लिए विभाग पूरी तरह से सक्रिय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *