स्कूली बच्चों ने सूरजकुंड मेले में चलाये गांधी जी का चरखा

0
13

PNN/ Faridabad: सूरजकुंड मेले में जहां एक तरफ देश विदेश के स्टाल लगे हुए हैं, वहीं हरियाणा टूरिज्म की तरफ से लगाया गया गांधी दर्शन स्टाल हर वर्ग की पसंद बना हुआ है। इस स्टाल पर ना सिर्फ गांधी जी के खास किस्सों को दिखाया गया है बल्कि उनकी कुछ अनदेखी तस्वीरों को भी लोगो के बीच लाया गया है और सबसे खास है पारंपरिक चरखा, जिस पर एक कारीगर सूत कात कर लोगों को दिखा रहा है और लोगों को भी चरखा चलाना सिखाया और बताया जा रहा है। गांधी जी की 150वीं जयंती को वर्तमान सरकार ने खास तरह से मनाने की ठानी है और उसी के अंतर्गत इस स्टाल को सजाया गया है।

गांधी जयंती के इस स्टाल की जिमेदारी हरियाणा टूरिज्म ने अ बाला की खादी प्रचारक राज शर्मा को सौंपा गया है। राज शर्मा पिछले 18 वर्षों से खादी एवम ग्रामोद्योग के प्रचार में तत्पर हैं और इसके लिए उन्हें कई बार स मानित भी किया गया है। राज शर्मा ने सैंकड़ों ग्रामीण महिलाओं को हाथ की कढाई से उत्पर तैयार करना और ग्रामोद्योग के बारे में जागरूक किया है। इस स्टाल में भी राज शर्मा ने खादी ग्रामोद्योग में बने उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई है, हालांकि यहां बिक्री के लिए उत्पाद उपलब्ध नहीं हैं लेकिन लोग फिर भी ग्रामोधोग के उत्पादों को करीब से देख पा रहे हैं और गांधी जी के साथ ही चरखे के बारे में जान पा रहे हैं।

सेल्फी विद चरखा बना आकर्षण का केंद्र

गांधी दर्शन स्टाल में पारंपरिक करके साथ सेल्फी लेने का मौका कोई छोडऩा नहीं चाहता। हर किसी को चरखे के साथ बैठकर उसे चलाते हुए सेल्फी लेने का क्रेज है। बच्चे जहां पहली बार चरखा चला कर उत्साहित हैं तो बड़े पुराने दिनों की यादें ताजा कर रहे हैं। कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने ने पहली बार चरखे को न सिर्फ इतने करीब से देखा बल्कि उसे चला कर भी देखा। खासकर स्कूली बच्चे चरखे के बारे में जानकर और इसे चलाने में उत्साहित दिखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here