PNN/ Faridabad: फरीदाबाद में पाए गए करोना वायरस से संक्रमित एक महिला अब पूरी तरह से स्वस्थ है. उसका इलाज शहर के मेट्रो हॉस्पिटल में चल रहा था. इस दौरान मरीज ने अपनी हाल-ए-दास्तां मीडिया से साझा करते हुए लोगों से कोरोनावायरस से भयभीत ना होने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचने का बेहतर उपाय एहतियात बरतना है. महिला ने कहा कि जब से वह मेट्रो हॉस्पिटल में एडमिट थी तब से अस्पताल प्रबंधन उनकी देखरेख में कोई कसर नहीं छोड़ा, जिसका नतीजा है कि वह आज कोरोना वायरस से जंग जीत गई.

उन्होंने कहा कि उन्हें प्रतिदिन लिक्विड (तरल पदार्थ) सेवर करने के लिए दिया जाता था, जिससे उन्हें काफी राहत मिली.

महिला ने कहा कि आज कोरोना वायरस से जहां देश और विदेशों में हाहाकार मचा हुआ है यह सरासर गलत है. आजकल कोरोनावायरस को हौआ बना दिया गया है जबकि सावधानी और संयम बरतने से इस वायरस से मुक्ति पाया जा सकता है.

इस मौके पर अस्पताल के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ एसएस बंसल और कोरोना वायरस संक्रमित महिला की देखरेख कर रही अस्पताल की एक महिला कर्मचारी ने भी लोगों से आग्रह किया कि कोरोना वायरस को खौफजदा ना बनाएं क्योंकि हमने कोरोना वायरस संक्रमित मरीज के साथ में लंबा समय गुजारा है, जिसका नतीजा आज हम सभी के सामने है और करोना संक्रमित महिला पूरी तरह से स्वस्थ हैं. उन्होंने लोगों से सावधानी बरतने की अपील की.

गौरतलब है की महिला 12 मार्च को स्पेन से लौटी थी, जिसे बुखार होने पर मेट्रो अस्पताल में महिला मरीज को आईसोलेशन वार्ड में रखा गया था. जिला उपायुक्त यशपाल यादव ने महिला मरीज को कोरोना पॉजिटिव मिलने की पुष्टि की थी.