Post

कोरोना का इलाज महज ₹35 में, इस कंपनी ने लॉन्च की दवा

PNN India: कोविड-19 वैक्सीन की दौड़ में एक तरफ जहां पूरी दुनिया लगी हुई है, वहीं दवा बनाने वाली एक प्रमुख कंपनी फार्मास्युटिकल (Sun pharma) इंडस्ट्रीज ने कोरोना की दवा महज ₹35 प्रति टैबलेट देने की दावा कर रही है. सनफार्मा ने शेयर बाजार को बताया कि फ्लूगार्ड इस हफ्ते से बाजार में उपलब्ध होगी. फेविपिराविर एकमात्र ओरल एंटी-वायरल इलाज है, जिसे भारत में हल्के से मध्यम कोविड-19 रोग के संभावित इलाज हेतु मंजूर किया गया है. सन फार्मास्युटिकल इंडस्ट्रीज ने Corona बीमारी के हल्के लक्षणों वाले मामलों के इलाज के लिए एंटीवायरल दवा फेविपिराविर (favipiravir) को फ्लूगार्ड ब्रांड नाम से पेश किया है. इसकी कीमत प्रति टैबलेट 35 रुपये है.

सन फार्मा इंडिया के बिजनेस सीईओ कीर्ति गनोरकर के मुताबिक हम फ्लूगार्ड को ज्‍यादा से ज्‍यादा मरीजों तक पहुंचाने के लिए एक किफायती कीमत पर पेश कर रहे हैं, ताकि उनके आर्थिक बोझ में कमी आए. 

कीर्ति गनोरकर ने कहा कि भारत में हरेक दिन 50 हजार से अधिक कोविड-19 के मामले सामने आ रहे हैं और ऐसे में स्वास्थ्य सेवा पेशेवरों को उपचार के ज्‍यादा विकल्पों की पेशकश करने की जरूरत है. 

इस दवा की पेशकश के साथ ही कंपनी ने 2019-20 की अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा है कि वह अपने क्षेत्र में बाजार के मुकाबले अधिक तेजी से बढ़ोतरी करने पर ध्यान केंद्रित करेगी.

रिपोर्ट में कहा गया है कि इसके लिए वह सप्लाई चैन को मजबूत बनाने, संयंत्रों के अधिकतम इस्‍तेमाल और विक्रेताओं के साथ मिलकर काम करने पर जोर दे रही है, ताकि सप्‍लाई लगातार जारी रहे.
 
कंपनी के MD दिलीप शांघवी के मुताबिक Sun Pharma आने वाले साल में R&D में निवेश जारी रखेगी. वैश्विक जेनरिक उद्योग में कंपनी की मजबूत स्थिति और भविष्य के लिए निरंतर निवेश से यह कोशिश की जाएगी कि इस क्षेत्र में उनकी स्थिति बेहतर बनी रहे.

यह भी पढ़ें-

बल्लभगढ़ की बेटी आशिमा गोयल की सिविल परीक्षा में 65वीं रैंक, मंत्री मूलचंद शर्मा ने दी बधाई

Sharing Is Caring
Shafi-Author

Shafi Shiddique