शिक्षा एक बीज और जीवन एक वृक्ष है: ज्योति बहन

0
16

PNN/ Faridabad: प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय की स्थानीय सेवा केंद्र की ओर से नैतिक शिक्षा से आएगा व्यवहार में निखार विषय पर आज सेक्टर-46 स्थित वर्धमान इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमे 7 से 9 कक्षाओं के विद्यार्थियों ने भाग लिया।

इस मौके पर ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय से आयी बहन ज्योति एवं डॉ बिनारी जैन ने कहा कि कुसंग, व्यसर, सिनेमा, फेसबुक, व्हाटसएप एवं फैशन के अंधी दौड़ में युवा पीढ़ी भटक रही है। नैतिक शिक्षा और आध्यात्मिकता से ही युवा पीढ़ी को सही दिशा मिल सकती है। नैतिक शिक्षा से ही मानवीय मन में रचनात्मक और सकारात्मक विकास होगा।
उन्होंने कहा कि शिक्षा एक बीज और जीवन एक वृक्ष है। जबतक जीवन रूपी वृक्ष में नम्रता, धैर्यता, सत्यता, इमानदारी, प्रेम, भाईचारा, सहनशीलता आदि सदगुण नहीं आते तब तक हमारी शिक्षा अधूरी है। केवल हम भौतिक शिक्षा से विकसित नहीं होते बल्कि नैतिक शिक्षा से हमारा सर्वांगीण विकास होगा। अंत में स्कूल की प्रिंसिपल सुमन जैन ने बच्चों से आध्यात्मिक ज्ञान एवं राजयोग का अभ्यास करने का आग्रह किया।