PNN/ Faridabad: मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज में नए सत्र से महात्मा गांधी नेशनल काउंसिल ऑफ रूरल एजुकेशन (MGNCRE) के साथ मिलकर सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट में एमबीए की पढ़ाई करवाई जाएगी। कार्यक्रम में MGNCRE से मेजर किरण शिवा ने बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा, आज के समय में पर्यावरण को बचाना सबसे बड़ा मुद्दा, यह एक चुनौती के साथ-साथ एक मौका भी है। उन्होंने कहा देश में रोजाना एक लाख पचास हजार टन वेस्ट जेनरेट होता है जिसे खत्म करना एक बहुत बड़ी चुनौती है। मेजर किरण ने कहा, यह हम सबकी जिम्मेदारी है कि हम पर्यावरण को बचाने के लिए कार्य करें।

एमआरआईआईआरएस के चेयर प्रोफेसर डॉ. कृष्णमूर्ति कानन ने कहा, सॉलेज वेस्ट प्रबंधन आज के समय में सबसे बड़ी समस्या है। इस दौरान पर्यावरण पर प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया, जिसमें छात्रों ने पर्यावरण से जुड़े प्रोजेक्ट्स प्रस्तुत किया।

कार्यक्रम में मानव रचना के ट्रस्टी डॉ. एमएम कथूरिया, एफएमएस की हेड दीप्ति हजारिका डबास, आई लव माई सिटी एनजीओ के संस्थापक पीपी सिंह समेत कई छात्र और फैकल्टी मेंबर्स मौजूद रहे।