इलाज के लिए क्यूआरजी अस्पताल आया तीमारदार भटका रास्ता, कमांडर हरिचंद मान ने परिवार से मिलाया

0
31

PNN/ Faridabad: जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड फरीदाबाद में जुडिशल ऑफिसर विंग कमांडर हरिचंद मान ने सेक्टर-16 स्थित क्यूआरजी अस्पताल में मणिपुर से अपने बेटी के इलाज के लिए आये एक व्यक्ति जो अपने परिजनों से बिछड़ने वाले को पुनः परिवार से मिला कर सराहनीय कार्य किया है. उक्त व्यक्ति को हिंदी इंग्लिश भाषा का ज्ञान न होने के कारण पिछले 1 सप्ताह से सेक्टर-65 बल्लभगढ़ में भटक रहा था. विंग कमांडर हरिचंद मान ने बताया कि सेक्टर-65 में अपने निवास के करीब उन्होंने एक व्यक्ति को पेड़ों के नीचे पत्ते बिछाकर लेटे हुए देखा। उन्होंने उससे पूछा कि वह कहां से है क्या कर रहा है, तो वह कोई जवाब नहीं दे पाया। क्योंकि वह हिंदी -इंग्लिश की जानकारी नहीं रखता था और वह बेहाल हालत में था. उसकी हालत देखकर उन्होंने उसको खाना खिलाया और फिर कुछ पूछताछ करने का प्रयास किया लेकिन वह मणिपुरी ही बोल रहा था.

थोड़ी देर में पुलिस और चाइल्ड हेल्पलाइन से रविंदर आकर उसको ले गए और प्रयास कर उसको उसके परिजनों से मिलाया। इसके बाद वह अपने परिजनों के साथ मणिपुर रवाना हो गया.
विंग कमांडर के प्रयास और इंसानियत के नाते फर्ज की प्रशंसा शहर में लोगों ने की है, सेक्टर–65 के कैप्टन महेंद्र सिंह रावत, उदय सिरोही एडवोकेट, संजय रावत, प्रधान नसीब सिंह, सूबे सिंह मान,महेश कुमार, बिजेंद्र फौजदार, प्रकाश भारद्वाज,नरेश कुमार, कर्नल गोपाल सिंह, सतीश मलिक सहित अन्य लोगों ने भूरी भूरी प्रशंसा की और कहा कि किसी को परेशानी में देखकर हमें अनदेखा नहीं करना चाहिए और उसके सहयोग की भावना रखनी चाहिए.