PNN/ Faridabad: टायर पंचर लगाने वाले व्यक्ति के मर्डर केस में शामिल पांच आरोपियों को क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने गिरफ्तार कर मामले का पर्दाफाश किया. पुलिस विभाग की तरफ से जारी प्रेस रिलीज के माध्यम से बताया गया कि मृतक सुभाष पुत्र जगन्नाथ निवासी मंदिर वाली गली भगत सिंह कालोनी की डेढ़ लाख रुपए की सुपारी देकर हत्या कराई थी। भांजा एवं भांजी ने संपत्ति हड़पने की नियत से सुभाष की हत्या करवाई थी.

वारदात की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस उपायुक्त अपराध राजेश कुमार के दिशा निर्देश व सहायक पुलिस आयुक्त अपराध अनिल कुमार के मार्ग दर्शन पर इस केस की तफ्तीश अपराध शाखा DLF फरीदाबाद को दी गई।

आरोपियों की धरपकड के लिए निरीक्षक संजीव कुमार प्रभारी अपराध शाखा DLF ने एक टीम का गठन किया, जिसमें निरीक्षक संजीव कुमार, उप निरीक्षक असरुद्दीन, उप निरीक्षक अश्वनी कुमार, मुख्य सिपाही कुलदीप, मुख्य सिपाही प्रवीन, मुख्य सिपाही अनूप सिंह, मुख्य सिपाही आनंद, सिपाही अनिल कुमार (साईबर एक्सपर्ट), सिपाही नितिन ,सिपाही प्रीतम, सिपाही नसीब शामिल रहे.

क्राइम ब्रांच DLF ने घटनास्थल से वारदात को सुलझाने में अहम सबूत इकट्ठा किए। टीम ने आस पास लगे CCTV कैमरे की फुटेज को खंगालना शुरू किया और सुभाष के परिजनों से भी पूछताछ की। परिजनों से पूछताछ के बाद सुभाष के रिश्तेदारों से पूछताछ की गई जिससे पता चला कि सुभाष का भांजा जयदेव और भांजी खेविता की नजर सुभाष की प्रोपर्टी पर थी जिसके लिए इनके बीच पहले भी लड़ाई झगड़ा हो चूका है।

जिसके आधार पर क्राइम ब्रांच DLF की टीम ने जयदेव और खेविता को दिनांक 23.11.2019 को गिरफ्तार करके पूछताछ की जो पूछताछ में पता चला कि जयदेव और खेविता ने अपने मामा सुभाष की हत्या 1,50,000 रूपए में सुपारी देकर करवाई थी।

प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि जयदेव और खेविता को अदालत में पेश कर अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए अदालत से जयदेव का 2 दिन का रिमांड लिया गया। रिमांड के दौरान जयदेव ने बताया कि उसने और उसकी बहन ने मिलकर अपने मामा सुभाष को रास्ते से हटाने की योजना बनाई ताकि अपने मामा सुभाष की मौत के बाद उसकी प्रोपर्टी पर दोनों भाई बहन कब्ज़ा कर सके।

जिसके लिए जयदेव और खेविता ने जयदेव के दोस्त कुलदीप और कुलदीप की पत्नी सुमन के द्वारा कुलदीप के दोस्त अमित (होडल,पलवल) और भारत (होडल,पलवल) को सुपारी देकर योजना बनाकर अपने मामा सुभाष की हत्या करवा दी थी।

वारदात के दौरान आरोपी भारत बाइक चला रहा था एवं शूटर अमित बाइक पर पीछे बैठा था आरोपी अमित ने हथियार से मृतक सुभाष के ऊपर गोली चला कर उसकी हत्या कर दी थी।

इंस्पेक्टर संजीव ने बताया कि दिनांक 25.11.2019 को कुलदीप ,कुलदीप की पत्नी सुमन और शूटर अमित को ऑफिसर कॉलोनी कोसी कलां जिला मथुरा UP से गिरफ्तार कर लिया गया है।

इंस्पेक्टर ने बताया कि रिमांड के दौरान आरोपियों से वारदात में प्रयोग की गई मोटर साइकिल एवं हथियार बरामद किया जाएगा. गिरफ्तार आरोपियों की निशानदेही पर वारदात के दौरान बाइक चला रहे आरोपी भारत को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

गिरफ्तार आरोपीयो का विवरण

  1. जयदेव उर्फ़ कुकी पुत्र विजय कुमार निवासी FCA 2472 SGM NAGAR हाल किराऐदार म०न०128/5 Nit थाना Nit फरीदाबाद।
  2. खेविता पुत्री विजय कुमार निवासी FCA 2472 SGM NAGAR हाल किराऐदार म०न०128/5 Nit थाना Nit फरीदाबाद।
  3. कुलदीप चौहान पुत्र श्याम चौहान निवासी गाँव देहगांव थाना कोसी कलां जिला मथुरा UP।
  4. अमित पुत्र लक्ष्मण सिंह निवासी रोहता पट्टी होडल थाना होडल जिला पलवल।
  5. सुमन पत्नी कुलदीप चौहान निवासी गाँव देहगांव थाना कोसी कलां जिला मथुरा UP.

गौरतलब है कि मृतक सुभाष पुत्र जगन्नाथ निवासी मंदिर वाली गली भगत सिंह कालोनी का साईकिल ट्रायर में पन्चर लगाने का खोखा है. सुभाष रोजाना की तरह 20 नवंबर को अपनी दूकान पर आया था। वह अपने खोखा की साफ सफाई करने लगा. समय करीब 7.00 am पर दो लडके मोटरसाईकिल पर आए जो अगले लड़के ने हेलमेट व पीछे बैठे लड़के ने अपने मुंह पर सफेद कपड़ा बांधा हुआ था. जो सुभाष से बात करने लगे और जैसे ही सुभाष ने अपने खोखे की तरफ मुंह किया और झुक कर सामान उठाने लगा तो मोटर साईकिल पर पीछे बैठे हुए लड़के ने अपने हाथ में लिए हुए हथियार से सुभाष को गोली मार दी थी। सुभाष की गोली लगने के कारण मौके पर ही मौत हो गयी।