फौजी परिवार को भाजपा नेता संतोष यादव ने दिलाया न्याय

0
54

PNN/ Faridabad: भाजपा के राष्ट्रीय युवा नेता संतोष यादव ने जमीनी विवाद में पीड़ित एक फौजी परिवार की मदद कर इंसाफ दिलाया, जिससे उक्त परिवार ने संतोष यादव का आभार व्यक्त किया।
दरअसल, मामला परवतिया कालोनी की है जहां भारतीय सेना का एक सिपाही ने अपने बुजुर्ग माता-पिता हरीसिंह और शांति देवी के लिए लगभग 20 लाख का प्लाट खरीदा, ताकि बुजुर्ग माता पिता किराये के मकान को छोड़कर अपने आशियाने में रह संकें। लेकिन पीड़ित परिवार ने जब सौदागर से रजिस्ट्री मांगने गए तो सौदागर ने रजिस्ट्री बैंक में गिरवी रख कर बैंक से 20 लाख भी ले चुका था. जिसकी वजह से बुजुर्ग परिवार और फौजी सदमे में आ गए और दर दर ठोकरें खाते रहे।
इस बाबत जानकारी होने पर भाजपा नेता संतोष यादव ने पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करते हुए कड़े तेवर के साथ साशन प्रसाशन के सामने फौजी के बुजुर्ग माता पिता की मदद की मांग रखी और सौदागर से बैंक का पूरा लोन क्लियर करवाकर खुद रजिस्ट्री बुजुर्ग माता पिता को सौंपी। रजिस्ट्री पाकर फौजी परिवार काफी खुश नजर आये. बुजुर्ग माता पिता ने संतोष यादव को आशिर्वाद दिया और कहा कि संतोष यादव की वजह से परिवार को ख़ुशी मिली है।
संतोष यादव ने मीडिया कर्मियों से बात करते हुए बताया कि फौजी परिवार न्याय के लिए साशन प्रसाशन के चक्कर पिछले दो वर्ष से काट रहा था, लेकिन कहीं कोई इंसाफ नही मिला। इतना ही नहीं मदद के लिए आगे आये एक व्यक्ति ने भी पीड़ित परिवार से 40 हजार हड़प लिया और कोई मदद नही की, जिसकी वजह से बुजुर्ग परिवार और फौजी सदमे में आ गए थे और अब आत्महत्या करने तक की भी सोचने लगे थे।
प्रवासी नेता संतोष यादव ने कहा कि मेरा पूरा जीवन जनता के लिए समर्पित है और जब तक मैं हूँ क्षेत्र में गुंडा गर्दी और बदमासी और गरीब लोगों को सताने वालों के खिलाफ लड़ाई लड़ता रहूँगा। मेरे दरवाजे गरीब मजदूरों और पीड़ितों के लिए हमेशा खुले है।