PNN Faridabad: आमतौर पर पुलिस को अपने क्षेत्रों में शांति बहाली के लिए सख्त रूप में देखा जाता है, लेकिन कोरोना महामारी के देशभर में फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 21 दिनों की देशव्यापी लॉक डाउन की घोषणा के बाद से पुलिस अब सख्त रोल के बजाय विनम्र एवं सेवा-भाव वाले रोल में देखी जा सकती है.

लॉक डाउन के बाद से गरीब व मजदूर लोगों को खाने-पीने की भय ने उन्हें अपने वतन पलायन करने पर मजबूर कर दिया था लेकिन इस विकट परिस्थिति में पुलिस ने ऐसे जरूरतमंदों के लिए आजकल सेवादार बनी नजर आ रही है, मजबूर लोग भूखे ना रहे इसलिए पुलिस अपनी ड्यूटी के दौरान भी ऐसे भूखे-प्यासे की तलाश कर उनकी हर संभव मदद करने में जुटी हुई है.

इसी कड़ी में फरीदाबाद क्राइम ब्रांच, मिसिंग पर्सन सेल एवं थाना पुलिस अलग-अलग तरह से जरूरतमंद लोगों की मदद में लगी हुई है। फरीदाबाद पुलिस ने इंसानियत की मिसाल कायम करते हुए आज शहर के विभिन्न हिस्सों में जरूरतमंद लोगों को खाना व फल वितरित किया गया.

पुलिस आयुक्त केके राव ने कहा कि लाख डाउन होने की वजह से लोग अपने गांव तक नहीं पहुंच पाए ऐसे लोगों की मदद फरीदाबाद पुलिस कर रही है. उन्होंने यह भी कहा कि फरीदाबाद पुलिस अपराधिक गतिविधियों पर नजर रखने के साथ-साथ जरूरतमंद लोगों की भी ध्यान रखी जा रही है.