PNN India: हरियाणा सरकार ने कोरोना से लड़ने के लिए अपनी तैयारी शुरू कर दी है। इसके तहत प्रदेश में कोरोना रिलीफ फंड का गठन किया गया है। सीएम मनोहर लाल अपने निजी खाते से पांच लाख रुपये देंगे। वहीं सभी विधायक एक महीने का अपना वेतन कोष में जमा कराएंगे। वहीं आईएएस अधिकारी भी एक महीने के वेतन का 20 प्रतिशत हिस्सा देंगे। ग्रुप डी कर्मियों को छोड़कर बाकी कर्मचारी 10 प्रतिशत वेतन देंगे। वहीं स्वैच्छिक तौर पर हर व्यक्ति सहयोग कर सकता है। हरियाणा सरकार की खाता संख्या- 39234755902 में आईएफएससी कोड एसबीआई एन 0013180 में राशि जमा करा सकते हैं।

अन्य घोषणाएं

स्कूल व आंगनबाड़ी के बच्चों को मिड डे मील का राशन घर पर पहुंचेगा।

प्राइमरी के बच्चों को 3 किलो गेहूं व चावल के साथ मसाले, दाल और 134.40 रुपये भी दिए जाएंगे।

छठी कक्षा से ऊपर के बच्चों को साढ़े चार किलो गेहूं, चावल, दाल, मसाले व 230 रुपये दिए जाएंगे।

मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना में पंजीकृत 12.38 लाख लोगों को 31 मार्च तक 2 हजार रुपये की राशि खातों में मिलेगी

पंजीकृत निर्माण मजदूरों को हर महीने साढ़े चार हजार रुपये देंगे

बीपीएल परिवारों को भी हर महीने 4500 रुपये देंगे 

अप्रैल महीने का राशन फ्री मिलेगा

दिहाड़ी मजदूरों, रिक्शा चालकों, स्ट्रीट वेंडर्स को जिलों में डीसी के पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा। उन्हें भी 4500 रुपये हर महीने मिलेंगे

प्रदेश के सभी 22 जिलों में कल से लॉक डाउन शुरू। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इसकी घोषणा की है। पंजाब में कर्फ्यू लगाने के बाद हरियाणा में कर्फ्यू लगाने की जरूरत नहीं। सभी आवश्यक सेवाएं चालू रहेंगी। बीपीएल परिवारों के लिए फ्री में राशन की व्यवस्था की जाएगी। 

वहीं इनेलो विधायक अभय चौटाला ने भी कोरोना महामारी से निपटने के लिए राहत कोष में एक माह का वेतन दिया है। उन्होंने इस रिलीफ फंड के लिए अपने विधायक कोटे से एक माह का वेतन देने की घोषणा की है। अगर इसके लिए और राशि की आवश्यकता होगी तो वह भरपूर योगदान देने के लिए तत्पर रहेंगे। सरकार इससे निपटने के साथ ही गरीब व मजदूर वर्ग के लिए राहत जारी करे।