PNN/Pauli: पौली ग्रामसभा के मस्जिद निकट अब्दुल हक के घर पर जीरो से 5 वर्ष  के नौनिहालों को पोलियो ड्रॉप पिलाया गया तथा टीका लगाया गया.

इस दौरान डॉक्टर बबीता और उनके साथ स्वास्थ्य कर्मचारी सहित आशा, सहायिका आंगनवाड़ी भी मौजूद रही.

डॉक्टर बबीता ने इस मौके पर उपस्थित लोगों को बताते हुए कहा कि ने कहा कि सभी अविभावकों को चाहिए की उनके घर में जीरो वर्ष से लेकर पांच वर्ष तक के सभी बच्चों को पोलियो की दो बुंद जरुर पिलाएं। क्योंकि विकलांगता हमारे समाज और देश के लिए एक कोढ़ है, जिसे खत्म करने के लिए हम सब को मिलकर काम करना होगा.

डॉक्टर ने महिलाओं को बताया कि पोलियो वायरल इंफेक्शन से होने वाली एक ऐसी बीमारी है जो ठीक नहीं हो सकती। इसकी चपेट में हमेशा कम उम्र के बच्चे आते हैं। उनका एक अंग पाइरालाइज्ड हो जाता है। इसलिए उन्हें जितनी जल्दी हो सके इससे बचने का प्रयास करना है। “नवजात  शिशु से लेकर 5 साल तक के बच्चों को पोलियो की खुराक जरुर पिलानी चाहिए। बच्चे जितने छोटे होते हैं उन्हें इंफेक्शन का खतरा उतना ही ज्यादा होता है। इसलिए जितनी जल्दी हो सके बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलानी चाहिए.